प्लेटफॉर्म से बुक किए गए मैनुअल रेल टिकट की जगह अब भेजा जाएगा एसएमएस; प्रिंट चाहिए तो देने होंगे 25 रु अतिरिक्त

भोपाल. रेलवे मार्च अंत से रिजर्वेशन काउंटर से मैनुअल टिकट बुक कराने की व्यवस्था बदलने जा रहा है। इसके तहत मैनुअल टिकट बुक कराने पर यात्री को टिकट का प्रिंट आउट नहीं मिलेगा।


इसकी जगह एसएमएस से टिकट भेजा जाएगा। यदि प्रिंट टिकट की डिमांड की जाती है तो यात्री को 25 रु. देना होंगे। इसके बाद कागज पर टिकट मिल सकेगा। फरवरी अंत में यह व्यवस्था सबसे पहले पश्चिम रेलवे मुंंबई में ट्रायल रूप में शुरू होगी।


हर दिन 3800 प्रिंट
हबीबगंज और भोपाल स्टेशन पर प्रतिदिन 3800 से ज्यादा टिकट मैनुअल बनते हैं और इनके प्रिंट भी निकलते हैं। इसमें काफी कागज लगता है। रेलवे बोर्ड के उच्च अधिकारियों के मुताबिक रेलवे तकनीक की मदद से पेपरलेस की ओर बढ़ रहा है, यह व्यवस्था भोपाल मंडल के कुछ विभागों में शुरू कर दी गई है।



Popular posts
खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल ने अधिकारियों व ठेकेदारों से कहा- अवैध रेत परिवहन रोकने के लिए दो-तीन नाके बनाएं
नए टैक्स सिस्टम में भी कुछ और छूट लानी पड़ सकती हैं, कुछ साल में हम आयकर के एक सरल सिस्टम पर आ जाएंगे
बैंक ऑफ बदौड़ा ने एमसीएलआर बेस्ड लोन की ब्याज दरों में 0.10% तक कटौती की, नए ग्राहकों को तुरंत फायदा मिलेगा
बोर्ड परीक्षा केंद्रों में खिड़कियों पर जालियां लगाई जाएंगी, ताकि कोई नकल न फेंक सके, संवेदनशील जिलों में सीसीटीवी लगेंगे
भोपाल में होगा पानी सहेजने और बचाने पर मंथन,राइट टू वाटर पर कॉन्फ्रेंस आज,मैग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेंद्र सिंह शिरकत करेंगे