हर व्यक्ति को स्वास्थ्य का अधिकार देने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध - मुख्यमंत्री कमल नाथ

मुख्यमंत्री द्वारा छिंदवाड़ा में सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल और नवीन जेल परिसर का शिलान्यास 


मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि प्रदेश के हर व्यक्ति को स्वास्थ्य का अधिकार मिले, इसके लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के विकास के सामने आज सबसे बड़ी चुनौती अर्थाभाव की है क्योंकि पूर्ववर्ती सरकार ने हमें खाली खजाना सौंपा था। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम हर चुनौती का सामना करते हुए प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए तैयार हैं क्योंकि हमारे साथ इस प्रदेश की जनता के प्यार और विश्वास की शक्ति है।  कमल नाथ आज छिंदवाड़ा में 1500 करोड़ रुपये लागत के छिंदवाड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (सिम्स) से संबद्ध चिकित्सालय का शिलान्यास और 240 करोड़ रुपये लागत के नवीन जेल परिसर का भूमि-पूजन कार्यक्रम में उपस्थित विशाल जन-समुदाय को संबोधित कर रहे थे।


मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल बनने के बाद छिंदवाड़ा, सिवनी, बैतूल, बालाघाट सहित अन्य जिलों के लोगों को इलाज के लिए नागपुर नहीं जाना पड़ेगा। हमारा यह अस्पताल अत्याधुनिक और बेहतर चिकित्सा सुविधाओं से इतना अधिक लैस होगा कि नागपुर सहित अन्य राज्यों के लोग भी एम्स की बजाए छिंदवाड़ा के सिम्स में इलाज कराने आएंगे। उन्होंने कहा कि हम प्रदेश में हर व्यक्ति को सुनिश्चित बेहतर इलाज का अधिकार देने जा रहे हैं।


मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में हमने सरकार बनते ही कर्ज माफी का निर्णय लिया। हमारा वादा है कि हम सभी पात्र किसानों के 2 लाख रुपए तक के फसल कृषि ऋण माफ करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण पूरा हो चुका है। दूसरे चरण में शेष किसानों के 2 लाख रुपए तक के फसल ऋण माफ करने की प्रक्रिया निरंतर जारी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरा मानना है कि ऋण माफी किसानों के साथ न्याय नहीं है। उनके साथ तभी न्याय होगा, जब हम उन्हें उनकी उपज का सही दाम दिला सकें। उन्होंने बताया कि सरकार ने इस दिशा में सोचना शुरू कर दिया है और आने वाले दिनों में हम कृषि के क्षेत्र में एक नई क्रांति की शुरूआत करेंगे, जिससे प्रदेश के हर किसान के चेहरे पर मुस्कुराहट आएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम प्रदेश के युवाओं को रोजगार मिले, इसके लिए भी निर्णय ले रहे हैं। उद्योगों में स्थानीय युवकों को रोजगार मिले, इसकी नीति बना रहे हैं। श्री कमल नाथ ने कहा कि युवाओं पर हमारे प्रदेश के नव-निर्माण की जिम्मेदारी है। ये युवा ही प्रदेश का भविष्य हैं। अगर ये बेरोजगार होंगे, तो हम अपने प्रदेश को विकसित प्रदेश नहीं बना सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निवेश के नए अवसर बढ़ रहे हैं। इसके लिए हमने निवेशकों का विश्वास अर्जित किया है।


मुख्यमंत्री  कमल नाथ ने छिंदवाड़ा में नवीन जेल निर्माण का उल्लेख करते हुए कहा कि इस जेल में अपराधियों की आपराधिक प्रवृत्ति पर रोक लगाने और उन्हें रचनात्मक कार्यों के साथ विकास से जोड़ने के लिए एक ऐसा वातावरण बने, जो पूरे देश में उदाहरण साबित हो। कमल नाथ ने छिंदवाड़ा से अपने 40 साल पुराने रिश्तों का उल्लेख करते हुए कहा कि यहाँ जो विकास हुआ है, उसका मुख्य कारण है कि लोगों ने मुझे विश्वास और प्यार दिया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के रूप में जो विश्वास और प्यार प्रदेश की जनता से उन्हें मिला है, उसके परिणाम में छिंदवाड़ा की तर्ज पर पूरे प्रदेश का विकास सुनिश्चित करेंगे।


लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री और जिले के प्रभारी सुखदेव पांसे ने कहा कि स्वास्थ्य सुधार की दिशा में छिंदवाड़ा सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का शिलान्यास एक पुण्य के काम की शुरूआत है। इसका श्रेय मुख्यमंत्री कमल नाथ और छिंदवाड़ा के सांसद श्री नकुल नाथ को जाता है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने कहा कि प्रदेश के विकास का आधार छिंदवाड़ा मॉडल है। श्री कमल नाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रदेश विकास के क्षेत्र में आगे बढ़ा है। उनकी मंशा है कि प्रदेश के हर नागरिक को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ मिले। चिकित्सा शिक्षा मंत्री का प्रभार देते हुए उन्होंने मुझसे कहा था कि बिगड़ी हुई स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार लाना और सरकारी अस्पताल में आने वाले हर व्यक्ति को अच्छा इलाज मिले, यह जिम्मेदारी भी निभाना। मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप मैं इस दिशा में काम कर रही हूँ।


गृह एवं जेल मंत्री बाला बच्चन ने कहा कि छिंदवाड़ा में बनने वाले नवीन जेल कॉम्पलेक्स में ओपन जेल भी बनाई जाएगी, जिसमें अच्छे व्यवहार वाले कैदियों को रखा जाएगा।  सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया ने छिंदवाड़ा में खुलने वाले सिम्स चिकित्सालय को पीड़ित मानवता की सेवा के लिए एक बड़ा कदम बताया है। 


सांसद नकुल नाथ ने कहा कि छिंदवाड़ा में आज जिस सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का शिलान्यास होने जा रहा है, यह मुख्यमंत्री कमल नाथ और मेरा सपना था। उन्होंने कहा कि लोगों को अत्याधुनिक इलाज न्यूनतम खर्च पर मिले, यह हमारी मंशा है। उन्होंने बताया कि यह अस्पताल न केवल 2000 बिस्तरों का होगा बल्कि आने वाले समय में 500 बिस्तर का विस्तार हो सके, यह व्यवस्था भी यहाँ रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि यह सिर्फ मध्यप्रदेश का ही नहीं बल्कि पूरे भारत का सर्वश्रेष्ठ अस्पताल बनेगा। कार्यक्रम को महाराष्ट्र के विधायक सुनील केदार ने भी संबोधित किया। 


मुख्यमंत्री ने इस मौके पर महाविद्यालयीन छात्राओं को नि:शुल्क ड्राइविंग लायसेंस और आवास योजना के हितग्राहियों को स्वीकृति पत्र वितरित किए। उन्होंने छिंदवाड़ा नगर पालिका द्वारा तैयार प्रदेश के जीरो वेस्ट कैलेण्डर का विमोचन भी किया। प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा श्री शिवशेखर शुक्ला ने अस्पताल निर्माण और उसमें उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी दी।


इस मौके पर पूर्व मंत्री श्री दीपक सक्सेना, स्थानीय विधायक, छिंदवाड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (सिम्स) के छात्र-छात्राएँ एवं बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।


 


Popular posts
सुबह के वक्त उज्जैन व वाराणसी पहुंचेगी ज्योतिर्लिंग एक्सप्रेस,20 फरवरी को वाराणसी से चलाया जाएगा
भोपाल में होगा पानी सहेजने और बचाने पर मंथन,राइट टू वाटर पर कॉन्फ्रेंस आज,मैग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेंद्र सिंह शिरकत करेंगे
एक महिला को दो युवकों ने बताया अपनी पत्नी; दोनों बोले- मुझसे हुई है शादी, पुलिस ने कहा- कोर्ट जाएं
हजारों होमगार्ड का भोपाल में प्रदर्शन, कहा- जवान कब तक 'स्वयंसेवी' बने रहेंगे; सड़क पर धरना देने आए तो पुलिस ने अंदर किया
श्रीलंका में बनेगा भव्य सीता माता मंदिर; मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा- मंदिर का डिजाइन जल्द तैयार किया जाएगा