भोपाल में होगा पानी सहेजने और बचाने पर मंथन,राइट टू वाटर पर कॉन्फ्रेंस आज,मैग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेंद्र सिंह शिरकत करेंगे

भोपाल। राइट टू वाटर (जल अधिकार) कानून को अमल में लाने के पहले भोपाल में 11 फरवरी को पानी को सहेजने और बचाने पर मंथन होगा। भूजल स्रोतों को पारंपरिक एवं वैज्ञानिक तरीकों से पुनर्जीवित एवं संरक्षित करने पर चर्चा होगी। सिंचाई में पानी का दुरुपयोग रोकने, जल साक्षरता पर भी चर्चा की जाएगी।


दो सत्रों में आयोजित राइट टू वाटर पर आयोजित कॉन्फ्रेंस में मैग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेंद्र सिंह समेत कई विशेषज्ञ शिरकत करेंगे। उद्घाटन मुख्यमंत्री कमलनाथ करेंगे, जबकि विशेष अतिथि पीएचई मंत्री सुखदेव पांसे होंगे। कॉन्फ्रेंस सुबह 10.30 से शाम 5:00 बजे तक मिंटो हॉल में होगी। इसमें छह प्रांतों के प्रतिनिधियों समेत पीएचई, नगरीय विकास, जल संसाधन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, कृषि, उद्यानिकी आदि विभागों के अफसर भी शामिल होंगे। वहीं, जल स्रोतों को पुनर्जीवित करने में योगदान देने वाली स्वयंसेवी संगठनों से जुड़ी शख्सियतें अपने अनुभव साझा करेगी।



Popular posts
खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल ने अधिकारियों व ठेकेदारों से कहा- अवैध रेत परिवहन रोकने के लिए दो-तीन नाके बनाएं
नए टैक्स सिस्टम में भी कुछ और छूट लानी पड़ सकती हैं, कुछ साल में हम आयकर के एक सरल सिस्टम पर आ जाएंगे
बैंक ऑफ बदौड़ा ने एमसीएलआर बेस्ड लोन की ब्याज दरों में 0.10% तक कटौती की, नए ग्राहकों को तुरंत फायदा मिलेगा
बोर्ड परीक्षा केंद्रों में खिड़कियों पर जालियां लगाई जाएंगी, ताकि कोई नकल न फेंक सके, संवेदनशील जिलों में सीसीटीवी लगेंगे