एमडीएमए सप्लाई करने आई मुंबई की महिला तस्कर गिरफ्तार, युवाओं और पार्टी गर्ल्स के बीच होती है सप्लाई

भोपाल. प्रतिबंधित ड्रग मिथाइल एनेडियो ऑक्सीमीथेंफेट एमीन (एमडीएमए) की तस्करी से जुड़ी मुंबई की महिला तस्कर को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। टीम ने उसके कब्जे से 5 लाख रुपए कीमत की 13 ग्राम एमडीएमए जब्त की है। अब तक की पूछताछ में खुलासा हुआ है कि एमडीएमए की सप्लाई खासकर युवाओं और पार्टी गर्ल्स के बीच होती है। बैंक खातों में ऑनलाइन पैसा जमा करने के बाद ही महिला सप्लाई देने भोपाल आती थी। उसका नेटवर्क गुजरात, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, दिल्ली और राजस्थान तक फैला हुआ है।


एएसपी क्राइम निश्चल झारिया के मुताबिक, एक सटीक सूचना के बाद महिला को हबीबगंज रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक से पकड़ा गया। डोंगरी, मुंबई निवासी 45 वर्षीय रेहाना खान की तलाशी लेने पर 13 ग्राम एमडीएमए मिली, जिसे जब्त कर लिया गया। ये मादक पदार्थ लेकर वह भोपाल में सप्लाई करने आई थी। इससे पहले उसका पति सलीम खान मादक पदार्थ का धंधा संचालित करता था। उसकी मौत के बाद ये काम रेहाना ने संभाल लिया। शनिवार को उसे अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। पुलिस का अंदाजा है कि अब और भी कई बड़े तस्कर हाथ लग सकते हैं।


दो हफ्ते पहले भी आई थी यहां एएसपी ने बताया कि रेहाना से एमडीएमए खरीदने वाले ज्यादातर युवा ही हैं। पहले वह युवाओं से डायरेक्ट डीलिंग करती है, बाद में उन्हें ही पैडलर के तौर पर इस्तेमाल करने लगती है। वह दो हफ्ते पहले भी भोपाल आई थी। लेकिन वह पुलिस की गिरफ्त से बच निकली। उसका कारोबार गुजरात, मप्र, उप्र, राजस्थान और दिल्ली में फैला हुआ है।


57 दिन में पकड़े 18 सौदागर


माफियाओं के खिलाफ चल रही मुहिम के तहत क्राइम ब्रांच 57 दिन में नशे के 18 सौदागरों को गिरफ्तार कर चुकी है। इनसे 59.465 किग्रा गांजा, 26.10 ग्राम एमडीएमए, 45 ग्राम ब्राउन शुगर और 250 ग्राम चरस जब्त की गई है। रेहाना को पकड़ने के लिए क्राइम ब्रांच लंबे समय से कोशिशें कर रही थी। अफसरों का मानना है कि उसका पकड़ा जाना अब तक की सबसे बड़ी पकड़ होगी।


रईसजादे करते हैं इसका नशा


एमडीएमए एक ऐसी ड्रग है, जिसका नशा ज्यादातर युवा रईसजादे ही करते हैं। रेहाना कुछ दिन के भीतर ही मोबाइल फोन, नंबर और ठिकाना बदल देती थी। उसके पास गलत-नाम पते से कई बैंक खाते हैं। ऑनलाइन पेमेंट लेने के बाद ही वह एमडीएमए की डिलीवरी के लिए तैयार होती थी। पता चला है कि विदेशी तस्करों से जुड़े लोग उससे जुड़े हैं।


पहली बार पकड़ी गई महिला


पुलिस का दावा है कि उसे पहली बार पकड़ा गया है। हर डिलीवरी के दौरान वह साथ में एक-दो तस्कर साथ लेकर चलती है, जो ट्रेन में अलग-अलग बर्थ पर बैठते थे। उनके पास ज्यादा माल रखा जाता था।



Popular posts
सुबह के वक्त उज्जैन व वाराणसी पहुंचेगी ज्योतिर्लिंग एक्सप्रेस,20 फरवरी को वाराणसी से चलाया जाएगा
भोपाल में होगा पानी सहेजने और बचाने पर मंथन,राइट टू वाटर पर कॉन्फ्रेंस आज,मैग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेंद्र सिंह शिरकत करेंगे
एक महिला को दो युवकों ने बताया अपनी पत्नी; दोनों बोले- मुझसे हुई है शादी, पुलिस ने कहा- कोर्ट जाएं
हजारों होमगार्ड का भोपाल में प्रदर्शन, कहा- जवान कब तक 'स्वयंसेवी' बने रहेंगे; सड़क पर धरना देने आए तो पुलिस ने अंदर किया
श्रीलंका में बनेगा भव्य सीता माता मंदिर; मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा- मंदिर का डिजाइन जल्द तैयार किया जाएगा